0

आखिर कौन थी धोनी की गर्लफ्रेंड और कैसे हुई उसकी मौत धोनी की ज़िंदगी का एक अनदेखा पहलू

भारतीय पूर्व क्रिकेट कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की ज़िंदगी पर बनी बायोपिक एम एस धोनी द अनटोल्ड स्टोरी को आप सभी नें देखा फिल्म में धोनी का किरदार निभाते सुशांत सिंह राजपूत नें धोनी की जिंदगी के हर एक समय के किरदारों को बड़ी ही खूबसूरती से निभाया लेकिन फिल्म देखते ही दर्शकों के मन में एक सवाल जागा जब उन्हें शर्मिले और शांत स्वभाव के धोनी की गर्लफ्रेंड के बारे में मालूम पड़ा ये सवाल आज भी धोनी के फैंस जानने के लिए बेताब बैठे हैं की आखिर धोनी की गर्लफ्रेंड कौन थी कैसी थी और क्यों को वो धोनी की जिंदगी से दूर हो गई उसकी मौत कब और कैसे हुई आइए जानते हैं धोनी की जिंदगी की उस खूबसूरत लड़की या कहें उनके पहले प्यार के बारे में ।

हमेशा ही कूल डूड की इमेज रखने वाले धोनी को अक्सर ही आपने हंसते मुस्कुराते देखा होगा लेकिन कहते हैं ना की मुस्कुराती आंखों में अक्सर दर्द के सैलाब होते हैं कुछ ऐसा ही दर्द का सैलाब धोनी भी अपनी आंखों में छुपाए फिरते थे इसी 7 जुलाई को धोनी नें अपना 36वां जन्मदिन मनाया । पूर्व क्रिकेट कप्तान धोनी आज आज क्रिकेट की दुनिया का जाना माना नाम हैं लेकिन क्या आप जानते हैं की धोनी के क्रिकेट में आने से पहले की ज़िंदगी कैसी थी किशोर अवस्था में धोनी की जिंदगी में एक ऐसा तुफान आया जिसने उन्हें भीतर तक झकझोर कर रख दिया।

झारखंड के रांची के युवा क्रिकेटर धोनी नें क्रिकेट की दुनिया में कदम रखने के लिए दीन रात मेहनत की अपने क्रिकेट के सपने के साथ साथ धोनी की आंखों एक और सपना पल रहा था बहुत कम उम्र में ही धोनी को प्रियंका झा नाम की लड़की से प्यार हो गया था सिर्फ 20 साल की उम्र में धोनी ने तय कर लिया था की वो प्रियंका से ही शादी करेंगे ।
माही क्रिकेट के एक उभरते सितारे न चुके थे जहां लाखों लड़कियां उनसे शादी करना चाहती थीं लेकिन माही का दिल तो बस उन लाखों लड़कियों के बीच एक ही के लिए धड़कता था और वो थी प्रियंका झा लेकिन शायद किस्मत को धोनी और प्रियंका का साथ मंजूर नही था

धोनी और प्रियंका की प्रेम कहानी के साथ ही धोनी की प्रोफेशनल जिंदगी भी आगे बढ़ रही थी साल 2003-04 में धोनी का चयन टीम इंडिया ए टीम में हो चुका था और उन्हें चयन के बाद ज़िम्बाबम्बे और केन्या के दौरे पर जाना था भारतीय बल्लेबाज़  और विकेट कीपर धोनी नें पाकिस्तान के खिलाफ 362 रन बनाए थे जिसका नतीजा ये रहा की धोनी क्रिकेट के महारथियों की निगाहों में आ गए थे और उनका चयन बांग्लादेश दौरे के लिए हो चुका था।

धोनी जैसे ही इस विदेशी दौरे से वापस लौटे तो उन्हें प्रियंका की रोड़ एक्सीडेंट में मौत की खबर मिली इस खबर नें धोनी को बुरी तरह से तोड़कर रख दिया । करीबी सूत्रों की मानें तो धोनी को प्रियंका की मौत का इतना गहरा सदमा पहुंचा की वो अपना मानसिक संतुलन भी खो बैठे गुमसुम और उदास धोनी नें इस दुख से बाहर आने के लिए अपना पूरा ध्यान क्रिकेट में लगा दिया प्रियंका की मौत के सदमें से बाहर आते -आते धोनी को 1 साल से भी ज्यादा का वक्त लगा।

4 जुलाई 2010 में धोनी नें अपनी बचपन की दोस्त साक्षी के साथ शादी कर ली साल 2015 में धोनी एक प्यारी सी बेटी जीवा के पिता बने हैं ।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *