0

फर्स्ट टाइम सम्बन्ध के दौरान आखिर क्यों रोती है। लड़कियां..

भारतीय संस्कृति में सम्भोग का जो महत्त्व हमारे पुराणों में बताया गया है उसे जानकर आप एकदम से दांग रह जायेंगे. यहा के लोगो की सोच भी उनके जैसे ही अलग होती है और काफी कुछ अलग करते है. भारतीय समाज में हर परिवार में पल रही लड़की को बचपन मे ही ऐसा माहौल दिया जाता है और सम्बन्ध बनाने जुड़ी हर प्रकार की जानकारी से काफी दूर रखा जाता है। जिस कारण से उनके मन में सम्भोग को लेकर एक डर बना रहता है और उसके मन मे सम्बन्ध बनाने को लेकर कईं प्रकार के डर जगह बना लेते है।

कईं लड़कियों का यह भी मानना होता है की सम्बन्ध के दौरान अपनायी गयी पॉजिशन से भी दर्द का कुछ नाता होता हैं। लड़किया ये भी मानती है की कुछ पॉजिशन्स में ज्यादा दर्द होता है।

अगर हम डॉक्टर की मने तो डॉक्टर्स के मुताबिक इस दर्द को दाइस्पेरिनिया कहते हैं। यह एक अलग प्रकार का दर्द होता है और यह एक ऐसा दर्द हैं जो एक बार होने पर बार-बार भी हो सकता है और अगर ये डर एक बार लड़की के मन में आ गया तो उसके निजी जीवन में भी काफी समस्याओ का सामना करना पड़ता है. जिस मे कपल के रिश्तों पर बुरा असर पड़ जाता है। हा ये बात कुछ हद तक सच हो सकती है की पहली बार सम्बन्ध के दौरान दर्द शारीरिक भागों का खुलना। खुलते टाइम माशपेशियां खींच जाती हैं और दर्द होने लगता है।

ऐसा अकसर देखा जाता है की कईं महिलायें ज्यादा दर्द के डर अपने दिमाग में डर बना लेती हैं और इतना ही है वो इन चीजों को बुरा मानने लगती हैं और संभोग के दौरान पुरुषों को सहयोग नहीं दे पाती इससे उनमे भी कई प्रकार का तनाव बना रहता है और इसके बावजूद तब भी ज्यादा दर्द की संभावना बन जाती हैंपहली बार के दौरान गुप्तांगों के भाग खुलते हैं इस कारण से शरीर के गुप्त भागों में कईं बार इन्फेक्शन या सूज़न आ जाती हैं जो दर्द का सबसे बड़ा कारण बन सकती है।

अगर आप चाहती हैं के सम्बन्ध के दौरान दर्द ना हो तो इसके कई उपाय है इसके लिए आप कुछ सही पॉजिशन का इस्तेमाल कर सकती हैं। जो सम्बन्ध के दौरान करने चाहियें। और मन में पाले हुए डर को दूर कर लेना चाहिये औऱ ज्यादा परेशानी हो तो डॉक्टर की सलाह लेना ही बेहतर हो सकता है

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *